Dictionaries | References

पार्वती

See also :
PĀRVATĪ
Párvatí, the name of the wife of Shiva.
n.  हिमालय तथा मेना की कन्या एवं शिवजी की पत्नी । नारद के कहने पर हिमालय ने इसे शंकर को ब्याह दिया । एक समय यह शंकर के साथ क्रीडा कर रही थी, तब इसने शंकर के नेत्र बंद कर लिये । शंकर के नेत्रों में सोम, सूर्य तथा अग्नि का वास होने के कारण चारों ओर अंधकार फैल गया तथा विनाश (क्षय) आरंभ हो गया । ऋषियों के कहने पर इसने क्रीडा रोक दी । बाद में शंकर के कथनानुसार इसने अरुणाचल पर तपश्चर्या की । गौतम ने इसे अरुणाचल का माहात्म्य बताया [स्कंद.१.३.३-१२] । पहले यह काले रंग की थी परंतु अनरकेश्वर तीर्थ में स्नान कर वहॉं के लिंग के समक्ष दीपदान करने के कारण यह गौरवर्ण की हो गयी [स्कंद. ५.१३०] । इसने ‘गौरीव्रत’ का निर्माण किया तथा उसकी महिमा धर्म राज को बतायी [भवि.ब्राह्म.२१] । एक समय कल्पवृक्ष के नीच बैठ कर इसने सुंदर स्त्री की इच्छा की, जिससे ‘अशोकसुंदरी’ एक सुंदर स्त्री उत्पन्न हुई । उसे पार्वती ने अपनी कन्या मान तथा उसे वर दिया ‘तुम सोमवंश के राजा नहुष की स्त्री होगी’ (अशोकसुंदरी देखिये) । इसके शरीर के मल से गजानन की उत्पत्ति हुयी । शंकर से इसे कार्तिकेय नामक पुत्र उत्पन्न हुआ । इसके अतिरिक्त बाण तथा वीरभद्र को इसने अपने पुत्र माने थे । देवताओं की प्रार्थना पर इसने दुष्टों के संहार के लिये अनेक अवतार लिये । इस कारण इसके अनेक नाम हैं (देवी, दुर्गा तथा सती देखिये) ।
 f  The name of the wife of Shiva.
  |  
  • श्री पार्वती माता - जय पार्वती माता, जय पार्व...
    आरती हिन्दू उपासना की एक विधि हैAarti, ãrti, arathi, or ãrati is a Hindu ritual
  • पार्वती मंगल
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - प्रस्तावना
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग १
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग २
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग ३
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग ४
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग ५
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग ६
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग ७
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग ८
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग ९
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग १०
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग ११
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग १२
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग १३
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग १४
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग १५
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • पार्वती मंगल - भाग १६
    पार्वती - मङ्गलमें प्रातःस्मरणीय गोस्वामी तुलसीदासजीने देवाधिदेव भगवान् शंकरके द्वारा जगदम्बा पार्वतीके कल्याणमय पाणिग्रहणका काव्यमय एवं रसमय चित्रण ..
  • मूळस्तंभ
    ‘ मूळस्तंभ’ पोथी म्हणजे शिव- पार्वती संवादरूपातील शिवपुराणावरील शोधनिबंध आहे.
  |  
: Folder : Page : Word/Phrase : Person

Comments | अभिप्राय

Comments written here will be public after appropriate moderation.
Like us on Facebook to send us a private message.