Dictionaries | References

विद्वानोको शिंग नहीं, और मुर्खको पुच्छ नहीं

( हिं.) विद्वान् मनुष्याला कांहीं शिंग नसतें व मूर्खाला शेपटी नसते. ते इतर माणसांसारखेच असतात.

Related Words

और   विद्वानोको शिंग नहीं, और मुर्खको पुच्छ नहीं   शिंग   नहीं नहीं म्हणस, संत्रजी पसरस   ढुंगण फाटे पण ढबला नहीं फाटे   कोल्ह्याचे शिंग   लांबा साथे तुतो जीयाय, मरे नहीं पण मांदो थाय   बत्तीस दांतकी भाखा खाली नहीं जाती   पुच्छ फुटणें   पुच्छ लांबणें   देएंगे दिलाएंगे (और लवडा बतलाएंगे)   बुधे भेटी, ने फेरी नहीं भेटी   मुयेपर कोथी किसीके काम आता नहीं   सारा दिवस पिसा पिसा, चपनी भर नहीं आटा   गडमें गड चितोडगड और सब गढैया है, तालमें ताल भोपालताल और सब तलैंया है   बिन रोयोलडकाभी दूध नहीं पाता   लकडी बिगर मकडी नहीं वठणी आती   आपनी और निभाय, वांकी वही जाने   पथरको जोक नहीं लगती   आपने छाचको कोयी खट्टा नहीं कहता   खानेके दांत और, देखनेके और   धोबीसे जीत नहीं, तो गद्धको क्यौं मारना   मुरख आगल वात, रिजे पण बुजे नहीं   फत्तरपर पाणी पडे, भीजे पण भीने नही, मूरखसे गीयान् कहे, बुझे पण रीझे नहीं   सब मिलना पण लंगोटीयार नहीं मिलना   पुच्छ प्रगती   मुडदार शिंग   शिंग तिकडें शिंगोटी   राजमें राज मेघराज, फुलमें फूल कपासका फूल, और दूधमें दूध माका दूध   खानेकू (पीनेकू) मैं, और लढनेकू मेरा बडा भाई   धीरज धरम मितर और नार, आपतकाल परखते चार   खानेकू मैं और लढनेकू मेरा बडा भाई   घरमें घंटा और मिजाज बडी   गहूं कहे मेरा मोटा पेट, और मुझको खावे नगरका शेट   घरमें नही बास, और नाम दुर्गादास   कुत्तेकू खीर और गद्धेकू चपात्‍या (नही पचती)   नानक (कहे) नन्हे होईजे जैसी दूब, और घांस जर जात है दूब खूब की खूब   खोटा पैसा गांठका और नकटा बेटा पेटका   दोन तोबे खाऊंगा और एक मेंढी लेउंगा   उपरका घडभाई, और निचेको अल खुदाई   घीणो पैसो और पैसोनी घी   रुखा भोजन, कर्ज शीर, और कल हलेली नार। चौथे मैले कपडे, या नरक निशाणी चार॥   तेली खसम करना, और रुखा खाना   पानी पिना छानके, और गुरुअ करना जानके   सोनेका निवाला खिलाना, और शेरके नजरोसें देखना   रात गय और बातही गये   राईभर नाता और गारीभर आशनाई   सो घाट और एक वसरी कांठ   करी (करे) चोरी, और शिरजोरी   घोडेकू तंग और अदमीकू वंग   
: Folder : Page : Word/Phrase : Person

Search results

No pages matched!

Related Pages

  |  
  |  
: Folder : Page : Word/Phrase : Person

Comments | अभिप्राय

Comments written here will be public after appropriate moderation.
Like us on Facebook to send us a private message.
TOP