Dictionaries | References

पूजा

See also:  पूजणें
A Sanskrit English Dictionary | sa  en |   | 
पूजा  f. f. honour, worship, respect, reverence, veneration, homage to superiors or adoration of the gods, [GṛS.]; [Mn.]; [MBh. &c.]

पूजा [pūjā]   [पूज्-भावे-अ] Worship, honour, adoration, respect, homage; प्रतिबध्नाति हि श्रेयः पूज्यपूजाव्यतिक्रमः [R.1.79.]-Comp.
-अर्ह a.  a. venerable, respectable, worshipful, worthy of reverence.
-उपकरणम्   the requisites for the worship.
-गृहम्   a temple.
-पट्टकम्   a document of honour.
-संभारः   See पूजोपकरण.

Shabda-Sagara | sa  en |   | 
पूजा  f.  (-जा) Worship, culture, respect, homage of superiors or adora- tion of the gods.
E. पूज् to worship, affs. अङ् and टाप्.

ना.  अर्चा , आदर , आराधना , पूजन , भक्ती , सत्कार , सन्मान ;
ना.  अपमान , खरडपट्टी , खरमरीत कान उघडणी , तासडपट्टी , बोडंती , हजामत .

Aryabhushan School Dictionary | mr  en |   | 
See पूजणें and पूजा.

Related Words

पूजा   खेटरांनी पूजा करणें   खेटरांनी पूजा बांधणें   लंड देवा, भंड पूजा   चांभारां देवाक होणां पूजा   महारांचे देवास फटकुरांची पूजा   शेंदरें माखियेला धोंडा, पूजा करितीं पोरें रांडा   सजीव तुळशी तोडा, पूजा म्हणती निर्जीव दगडा   पूजा घालणें   पूजा करणें   बारा म्हशी धुवीन पण देवाची पूजा करणार नाहीं   शिवाची पूजा   यथेच्छ पूजा करणें   स्वतःची स्वतः पूजा करणें   यथेच्छ पूजा झोडपणें   पूजा बांधणे   देव तशी पूजा आणि संगत तशी वागणूक   चांभाराच्या देवाला खेटरांची पूजा   अकरा देव आणि उतावळीची पूजा   पूजा देणें   निजेवांचून (शिवाय) पूजा नाहीं   उलटी पूजा करणें   पूजा आरती   चांभाराच्या देवास खेटराची पूजा   घरचे देवाक पूजा ना, बाहेरचा देवाक नैवेद्यु   चुलीची आराधना पूजा   बेल ना पत्री, पूजा करायले निघाली चत्री   उलटी पूजा   वासना मरे, देव पूजा करे   चांभाराच्या देवाला खेटराची पूजा   सोमेश्र्वराला नागवला आणि रामेश्र्वराची पूजा केली, बांधली   
: Folder : Page : Word/Phrase : Person

Keyword Pages

  |  
  • पूजा एवं विधी
    ईश्वर की कॄपा तथा दया प्राप्त करनेके लिए नित्य पूजा विधी करनी चाहिये, क्योंकी पूजा का अध्यात्म तथा धर्म से गहरा संबंध है । 
  • दीपावली की पूजा - गौवत्स द्वादशी
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • गौवत्स द्वादशी - महत्व
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • गौवत्स द्वादशी - व्रत-कथा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • गौवत्स द्वादशी - गोत्रिरात्र व्रत
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • दीपावली की पूजा - रूपचतुर्दशी
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • रूपचतुर्दशी - महत्व
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • रूपचतुर्दशी - उबटन से स्नान
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • रूपचतुर्दशी - हनूमानुत्सव
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है । &..
  • दीपावली की पूजा - लक्ष्मीपूजन श्रीसूक्तसे
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - प्रथम पूजा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - द्वितीय पूजा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - तृतीय पूजा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - चतुर्थ पूजा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - पंचम पूजा
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • श्रीसूक्त लक्ष्मीपूजन - आरती तथा समर्पण
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • दीपावली की पूजा - लक्ष्मीपूजन
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • लक्ष्मीपूजन - सामग्री एवं नियम
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • लक्ष्मीपूजन - विविध पूजन
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  • लक्ष्मीपूजन - लक्ष्मी पूजन
    दीपावली के पाँचो दिन की जानेवाली साधनाएँ तथा पूजाविधि कम प्रयास में अधिक फल देने वाली होती होती है और प्रयोगों मे अभूतपूर्व सफलता प्राप्त होती है ।
  |  

Related Pages

  |  
  |  
: Folder : Page : Word/Phrase : Person

Comments | अभिप्राय

Comments written here will be public after appropriate moderation.
Like us on Facebook to send us a private message.
TOP