Dictionaries | References

सनक (काप्य)

n.  एक आचार्य, जो काप्य नामक आचार्य द्वयों में से एक था । इसके साथी दूसरे आचार्य का नाम नवक था । इन दोनों ने विभिन्दुकियों के यज्ञ में भाग लिया था [जै. ब्रा. ३.२३३] । लुडविग के अनुसार, ऋग्वेद में भी एक यज्ञकर्ता आचार्यद्वय के रूप में इनका निर्देश प्राप्त है [ऋ. १.३३.४] । किन्तु इस संबंध में निश्चितरूप से कहना कठिन है ।

Comments | अभिप्राय

Comments written here will be public after appropriate moderation.
Like us on Facebook to send us a private message.