Dictionaries | References

सत्यवती II.

See also :
SATYAVATĪ I , SATYAVATĪ II , SATYAVATĪ III , SATYAVATĪ IV , सत्यवती , सत्यवती III. , सत्यवती IV. , सत्यवती V.
n.  जमदग्नि ऋषि की माता, जो गाधि राजा की कन्या, ऋचीक ऋषि की पत्‍नी, एवं विश्वामित्र ऋषि की बहन थी । एक हजार श्यामकर्ण अश्व ले कर गाधि राजा ने इसका विवाह ऋचीक ऋषि से किया था (ऋ.चीक देखिये) । जमदग्नि के अतिरिक्त इसके शुनःपुच्छ, शुनःशेप एवं शुनोलांगूल नामक अन्य तीन पुत्र थे [वायु. ९१.९२];[ ब्रह्मांड. ३.६६.६४] । अपने पातिव्रत्य धर्म के कारण, यह मृत्यु के पश्चात् स्वर्गलोक चली गयी, एवं अपने अगले जनम में कौशिकी नदी के रूप में पुनः पृथ्वी पर अवतीर्ण हुई।

Comments | अभिप्राय

Comments written here will be public after appropriate moderation.
Like us on Facebook to send us a private message.