Dictionaries | References

कमठ II.


n.  महीनगर के हारित नामक ब्राह्मण का पुत्र । वृद्ध ब्राह्मण का रुप ले कर सूर्य इसके पास आया तथा उसने कुछ प्रश्न पूछे । उसके इसने समर्पक उत्तर दिये । तब सूर्य ने इसे बताया कि, तेरा पिता स्मृतिकार होगा, इस स्थान का त्याग नहीं करेगा तथा यह स्थान जयादित्य नाम से प्रसिद्ध होगा [स्कंद.१.२.५१]

Comments | अभिप्राय

Comments written here will be public after appropriate moderation.
Like us on Facebook to send us a private message.
TOP