TransLiteral Foundation
Don't follow traditions blindly or don't assume a superstition either.
Don't be intentionally ignorant. Ask us!! Make Informed Religious Decisions!!

सूरदास

: Folder : Page : Word/Phrase : Person
  |  
  • सूरदास भजन
    सूरदास भजन
  • सूरदास - श्रीकृष्ण माधुरी
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेबालें पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है । 
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद १ से ५
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करने वाले पदोंका संग्रह किया गया है , तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन ..
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ६ से १०
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करने वाले पदोंका संग्रह किया गया है , तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन ..
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ११ से १५
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद १६ से २०
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद २१ से २५
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद २६ से ३०
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ३१ से ३५
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ३६ से ४०
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ४१ से ४५
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ४६ से ५०
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ५१ से ५५
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ५६ से ६०
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ६१ से ६५
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ६६ से ७०
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ७१ से ७५
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ७६ से ८०
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ८१ से ८५
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  • श्रीकृष्ण माधुरी - पद ८६ से ९०
    इस पदावलीके संग्रहमें भगवान् श्रीकृष्णके विविध मधुर वर्णन करनेवाले पदोंका संग्रह किया गया है, तथा मुरलीके मादकताका भी सरस वर्णन है ।
  |  
: Folder : Page : Word/Phrase : Person


Comments | अभिप्राय

Comments written here will be public after appropriate moderation.
Like us on Facebook to send us a private message.

parallelogram lattice

  • समांतरभुज चौकोनी जालक 
RANDOM WORD

Did you know?

गांवे, नद्या, समुद्र, देवदेवता किंवा अन्य नांवांची उत्पत्ती काय असेल? नांवे कशी पडली असतील?
Category : Hindu - Literature
RANDOM QUESTION
Don't follow traditions blindly or ignore them. Don't assume a superstition either. Don't be intentionally ignorant. Ask us!!
Hindu customs are all about Symbolism. Let us tell you the thought behind those traditions.
Make Informed Religious decisions.

Featured site